पत्रकार नरोत्तम सिंह की रिपोर्ट

बक्सर जिला मुख्यालय सर्किट हाउस में लोजपा बक्सर का जिला कार्य समिति व तैयारी समिति की बैठक आयोजित हुई। जिला लोजपा कार्य समिति व तैयारी बैठक की अध्यक्षता पार्टी के जिलाध्यक्ष सह डुमराँव विधान सभा लोजपा के पूर्व प्रत्याशी अखिलेश कुमार सिंह ने की। इस बैठक में मुख्य अतिथि के रूप में पार्टी संसदीय बोर्ड के प्रदेश अध्यक्ष सह पूर्व एम एल सी बड़े भाई श्री हुलास पांडेय जी व वशिष्ठ अतिथि के रूप में छात्र लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बड़े भाई श्री यामिनी रंजन मिश्रा जी उपस्थित हुए।
इस बैठक में पार्टी के जिला कमिटी के पदाधिकारी, सभी प्रखंडों के प्रखंड अध्यक्ष व नगर अध्यक्ष, प्रदेश कमिटी के सदस्य व सभी प्रकोष्ठों के जिलाध्यक्ष मौजूद रहें। इस बैठक में आशीर्वाद यात्रा को सफल बनाने के लिए विस्तृत चर्चा हुई। आशीर्वाद यात्रा कैसे सफल हो उसका रूट ,जनसभा, प्रेष वार्ता, महापुरुषों पर माल्यार्पण, कार्यकर्ताओं का हुजुम आदि सभी विन्दुओं पर विस्तार से चर्चा हुई। माननीय श्री चिराग पासवान जी के बक्सर सीमा में प्रवेश व कार्यक्रम के अंत तक बक्सर लोजपा मय व चिराग मय हो इसकी सारी व्यवस्थाओं पर चर्चा हुई। साथ ही जहां जहां स्वागत स्थल का चयन किया गया है वहाँ वहाँ पर पार्टी के पदाधिकारीयो को जबाबदेही प्रदान की गई है। ताकि हर हाल में उस स्थल पर कार्यकर्म सफल हों ।
जिला कार्य समिति व तैयारी समिति की बैठक को संबोधित करते हुए पार्टी संसदीय बोर्ड अध्यक्ष श्री हुलास पांडेय जी ने कहाँ की बक्सर में चार सितम्बर को आशीर्वाद यात्रा आयोजित है पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय श्री चिराग पासवान जी का आगमन है। जिलाध्यक्ष अखिलेश कुमार सिंह के नेतृत्व में आशीर्वाद यात्रा की तैयारी बहुत ही अच्छी चल रही है हम तैयारी से संतुष्ट हैं। चिराग पासवान जी बिहार के भविष्य है जनता आशा भरी निगाहों से देख रही है।
बैठक को संबोधित करते हुए छात्र लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री यामिनी रंजन मिश्रा जी ने कहा कि चिराग पासवान जी के विचार धारा को जनता पसंद कर रही हैं। आशीर्वाद यात्रा में उमड़ रहे जनसैलाब से स्पषट दिखाई दे रहा है कि बिहार की जनता चिराग पासवान जी को बिहार के मुख्यमंत्री रूप में देख रही हैं। बैठक को संबोधित करते हुए जिलाध्यक्ष अखिलेश कुमार सिंह ने कहा कि चिराग पासवान जी को कमजोर करने की जो साजिसे हुई इस साजिश को बिहार की जनता समझ चुकी है। इस साजिश की घटना से बिहार में चिराग पासवान जी और मजबूत व लोकप्रिय होकर उभरे हैं। परिवार में कमजोरी देख पशुपति कुमार पारस को मोहरा बनाकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जो चिराग पासवान जी को धोखा देने का कार्य किया है उसका बदला लोजपा के एक एक कार्यकर्ता आनेवाले चुनाव में लेंगे।
जिलाध्यक्ष ने कहा कि बिगत विधान सभा चुनाव में नीतीश कुमार जी की पार्टी का लोजपा ने जो हश्र किया। जिसके चलते नीतीश कुमार जी के सपनों में भी चिराग पासवान जी दिखाई पड़ रहे थे। लोजपा ने जद यू को तिसरी नंबर की पार्टी बना दिया। नहीं तो नीतीश कुमार जी कहते फिर रहे थे कि बिहार की जनता हमारे चेहरे पर मतदान करती है। लोजपा ने उनका चेहरा बेनकाब कर दिया। साथ ही बक्सर में आशीर्वाद यात्रा सफल हेतु जो रणनीति व रूप रेखा है वह सभी को अवगत कराया।
बिहार मे कानून व्यवस्था चौपट हो गई है। बिकास औंधे मुंह गिर गया है। कोरोना काल में बिहार की जनता तडप तडप कर मरती रही। मुख्यमंत्री एक अणे मार्ग में आराम फरमाते रहे।
बिहार की सरकार सुशासन नहीं कुशासन व महाजंगल राज की सरकार हैं।
जिला कार्य समिति की बैठक में मुख्य रूप से शिवकुमार पासवान ,निर्भय निराला, संजय पासवान, ठाकुर भानु शंकर सिंह, ओम जी मिश्रा, ओम प्रकाश पासवान, धनंजय पांडेय, नौशाद आलम ,राहुल चौबे, फतेह नारायण सिंह, धर्मपाल पांडेय,हरेराम चौबे, उरजेश राय, बिजय नारायण दूबे, राजेश सिंह पपु,उज्जवल सिंह,ज सुनिल पासवान ,राकेश दूबे, सुधीर पांडेय, मनीष पाठक, राजेश राम,विष्णु कांत पिर्यदर्शी, वैजनाथ पासवान, देवमुनी पासवान, फुलपतिया देवी, पिन्टू पासवान, आशुतोष चौबे, टुनटुन राम,विवेक पांडेय गोलु,मो फिरोज शाह, अमर कुमार पासवान, गोलडी दूबे, सोमप्रकाश पासवान, रामकुमार पासवान, मनोज पासवान, ओमप्रकाश भारती, संजीव राय ,रामाशंकर पांडेय, मगन राय ,मुन्ना पांडेय, अंकित कुमार सिंह गोलु, राजेश पासवान, शिशिर कश्यप, विजय ओझा, प्रेम पासवान, आशुतोष चौबे, रबिशंकर प्रसाद आदि सैकड़ों कार्यकर्ता भाग लिए ।